कभी खुशी लाती है
कभी गम लाती है
कितने एहसास
एक साथ मन में 
जगा जाती है
कहने को तो है
एक तारीख
जैसे ही आती है
वह तारीख
बीते दिनों  की
यादो को हरा
कर देती है
अच्छी यादों 
की खुशबू
फूलो सी
सुन्दर लगती है
बुरी यादें 
कांटो सी चुभती है
हर तारीख की 
अपनी अहमियत है
जिंदगी में



गरिमा कांसर

1 Response
  1. sushma verma Says:

    बेहतरीन अभिवयक्ति.....


टिप्पणी पोस्ट करें