दिल में उमड़्ता है
प्यार का सागर.

जुबा मे होता है
खामोशी का तूफान.

डाँटकर ही प्यार 
जताते हो आप.

बिना बोले मन की बात 
समझ जाते हो आप.

जो चाहिये वो लाकर 
मुझे दे देते हो आप
कितने प्यारे हो पापा आप


गरिमा
0 Responses

टिप्पणी पोस्ट करें