वक्त के साथ इंसान बदल जाते हैं  
रिश्तों के सारे आयाम बदल जाते हैं   

मुश्किलें तो हमेशा आती है जीवन में ,
फर्क बस ये है कि, इनके नाम बदल जाते है । 

ये कैसा असर है दौलत में ...खुदा  जाने ,
कि अच्छे-भले लोगों के ईमान बदल जाते हैं । 

उन गिरगिटों के हाथ हमने सौंप दिया है देश,
रंग जिनके कभी भी सरे -आम बदल जाते हैं । 

धर्म है एक अफीम ..जिसके नशे में ....
अपने फर्ज से हिन्दू-मुसलमान बदल जाते हैं । 




रचना भारतीय, मधेपुरा.
0 Responses

टिप्पणी पोस्ट करें