पुरुष और स्त्री एक सिक्के के दो पहलू
  1. पुरुषों के साथ बात करते समय हमेशा अपनी गरिमा बनाए रखें. कभी भी उनसे भद्दा मजाक न करें. ना ही किसी भी गलत बात को बर्दाश्त करें.
  2. बेवजह किसी अनजान सहयोगी से लिफ्ट न लें. ना ही किसी के साथ बाहर खाने-पीने जाएँ. अगर जाना ही पड़ता है तो खुद बिल चुकाने के लिए तैयार रहें.
  3. अगर आप अकेली रहती हैं तो पुरुष मित्रों को अपने घर अकेले आने की बजाय परिवार के साथ आने का निमंत्रण दें.
  4. पुरुष मित्रों के कपड़ों या किसी और चीज की तारीफ़ सधे हुए शब्दों में न करें. अन्यथा वे इसका कोई और अर्थ भी निकाल सकते हैं.
खुद को अपग्रेड करें:
  1. प्रगति की दौड़ में बने रहने के लिए खुद को लगातार अप्देत्कारना जरूरी है. अपने आसपास के घटनाक्रम पर निगाह रखने के लिए नियमित रूप से अखबार तथा मैग्जीन आदि पढ़ें. अगर पढ़ने का समय नहीं मिलता है, तो आप रसोई में काम करते समय ही टेलीविजन पर ख़बरें देख-सुन सकती हैं.
  2. हर नयी तकनीक को जानने-समझने की कोशिश करें. समय-समय पर बाजार में आनेवाले नए उत्पादों की जानकारी हासिल करती रहें. उन्हें इस्तेमाल करने का ढंग भी आप सीख सकती हैं.
  3. आजकल बिना वाहन के जिंदगी में रफ़्तार नहीं आती. बेहतर होगा कि अपनी सामर्थ्य को ध्यान में रखते हुए कोई भी एक वाहन चलाना सीख लें.
  4. अगर आपके घर में कम्प्यूटर है, तो इंटरनेट इस्तेमाल करना सीख लें. ईमेल के जरिये आप दूर-दराज के अपने शुभचिंतकों का कुशलक्षेम मालूम कर सकती हैं.
(साभार: वनिता)
0 Responses

टिप्पणी पोस्ट करें